Thursday, February 29, 2024
Home लाइफस्टाइल इन कारणों से पेरेंट्स को इग्नोर करने लगते हैं बच्चे, समय रहते...

इन कारणों से पेरेंट्स को इग्नोर करने लगते हैं बच्चे, समय रहते कर लें खुद में सुधार

आजकल माता-पिता अपने बच्चों से शिकायत करते हैं कि वे परिवार के साथ रहने की बजाय अकेले रहना पसंद करते हैं. ऐसे बच्चे अक्सर अपने माता-पिता के साथ बातचीत करने और अपनी भावनाओं को साझा करने से हिचकिचाते हैं. जिसके कारण माता-पिता उनके विचारों को समझने में असमर्थ होते हैं और उनसे दूर हो जाते हैं. यदि आपके परिवार में भी बच्चे इस तरह से आपसे व्यवहार करते हैं, तो समय पर सतर्क हो जाएं।

तुलना ना करें
यदि आप भी उन माता-पिता में से एक हैं जो अक्सर अपने दोनों बच्चों में से एक को दूसरे के जैसा बनने के लिए कहते हैं, तो तुरंत अपनी यह आदत बदलें. आपका ऐसा करना बार-बार आपके बच्चे को यह अहसास करा सकता है कि आप उसके भाई या बहन से उससे ज्यादा प्यार करते हैं।

माता-पिता से भावनात्मक दूरी
कई बार कुछ बच्चे अपने माता-पिता की एक भी आलोचना को नजरअंदाज नहीं कर पाते हैं. ऐसे बच्चों के माता-पिता के लिए हमेशा अपने बच्चों के व्यवहार पर नजर रखना मुश्किल हो जाता है. बचपन की इरादा भरी नफऱत बच्चों को इसे अपने माता-पिता से भावनात्मक दूरी बना देती है।

जीवनसाथी पर टिप्पणी
बच्चे का विवाहित जीवन पहले के तुलना में थोड़ा अलग हो जाता है. इस तरह की स्थिति में, उसके जीवनसाथी पर कोई भी टिप्पणी करना आपके लिए गलत हो सकता है, लेकिन उसके लिए यह अपमानजनक महसूस हो सकता है. जिससे वह आपसे दूर हो सकती है।

गलतियों से सीखने का मौका
कई बार माता-पिता हर बात के लिए अपने बच्चों को रोकने और सलाह देने में लगे रहते हैं. वे इसे अपना अधिकार और कर्तव्य मानते हैं लेकिन आप उन्हें हमेशा बिना पूछे सलाह देना, खासकर जब वे अपने निर्णय ले सकते हैं. आपकी सलाह अच्छी हो सकती है, लेकिन कभी-कभी यह बेहतर होता है कि आप एक कदम पीछे हटें और अपने बच्चों को अपनी गलतियों से सीखने का मौका दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अनुपयोगी घाटियां व जमीनों में उगायी जाएगी मंडुआ, झंगोरा एवं चौलाई

सीएस ने क्षेत्र विस्तार की कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए देहरादून।  मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी ने मंडुआ, झंगोरा व चौलाई का उत्पादन बढ़ाने...

भाई के सिर पर सब्बल से हमला कर की हत्या, पिता को भी किया घायल, आरोपी गिरफ्तार

पंजाब। खन्ना के गांव पूनिया में छोटे भाई ने अपने बड़े भाई के सिर पर सब्बल (औजार) से हमला कर उसकी हत्या कर दी।...

उत्तराखंड पुलिस ने वाहनों के चालान से 43.52 करोड़ कमाए

सी.पी.यू ने 1.14 लाख व अन्य ने 7.28 लाख  चालान काटे काशीपुर। बीते साल 2023 में उत्तराखंड पुलिस ने 8 लाख 42 हजार वाहन चालान...

देश के ताकतवर हस्तियों की रेस में सीएम धामी ने लगाई लंबी छलांग

देश के सौ सबसे ताकतवर प्रमुख व्यक्तियों में सीएम धामी 61 वें पायदान पर देहरादून। लोकसभा चुनाव के दावेदारों के दिल्ली में जारी मंथन के...

उच्च शिक्षा में शोध, छात्रवृत्ति व निःशुल्क कोचिंग का मिलेगा अवसर

सरकार ने वर्ष 2024-25 के बजट में किया 7.64 करोड़ का प्रावधान देहरादून। सूबे की शिक्षा व्यवस्था में गुणात्मक सुधार के लिये सरकार ने बजट...

केआइएसएस मानवतावादी सम्मान से सम्मानित किए गए माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापक बिल गेट्स

भुवनेश्वर। माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापक तथा वैश्विक समाज सेवी, बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के सह-अध्यक्ष बिल गेट्स को उनके सामाजिक कार्यों के लिए...

उत्तराखण्ड के सात लोक कलाकारों को संगीत नाटक अकादमी पुरुस्कार

वर्ष 2022-23 के लिए संगीत नाटक अकादमी सम्मान की घोषणा देहरादून।  संगीत नाटक अकादमी ने अपने पुरस्कारों की घोषणा कर दी है। ये पुरस्कार राष्ट्रपति...

ऊनी कपड़े रखते समय जरूर रखें इन बातों का ध्यान, हमेशा दिखेंगे नए जैसे

जैसे ही सर्दियां खत्म होने वाली होती हैं, हम लोग अब अपने गर्म कपड़े, खासकर ऊनी कपड़े, संभाल कर रखने की सोचते हैं. ये...

पंचायतों के सशक्तिकरण के लिए पंचायत मंत्री ने सदन में प्रस्तुत किया संकल्प पत्र

महाराज ने कहा सबसे पहले पंचायतों को अपने विभागों का करेंगे स्थानांतरण देहरादून। पंचायतीराज मंत्री सतपाल महाराज ने सदन में भारत के संविधान की...

ट्रंप को हराना क्यों मुश्किल?

श्रुति व्यास डोनान्ड ट्रंप ने फिर साबित किया है कि वे अजेय हैं। 24 फरवरी को ट्रंप ने प्रतिस्पर्धी निकी हैली के गृहराज्य साऊथ केरोलाइना...